EPaper SignIn

देहरादून में एक महिला ने पहले पति को दिया तलाक,पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर कर दी सारी हदें पार
  • 151045804 - SHAHANOOR ALI 0



देहरादून : एक महिला ने पति को पहले तलाक दे दिया। बाद में मन नहीं भरा तो अपने प्रेमी के साथ मिलकर पूर्व पति का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। लाश मिलने के बाद पुलिस ने छानबीन शुरू की थी। सहसपुर पुलिस ने पूर्व पत्नी और उसके प्रेमी के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर दोनों को जेल भेज दिया।

सहसपुर पुलिस ने बालूवाला गांव में हुए चिकन शॉप कारोबारी गुमान सिंह हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने मृतक कारोबारी की तलाकशुदा पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार किया है। तलाकशुदा पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या की। दोनों के खिलाफ पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। दोनों को जेल भेज दिया है।

एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने गुरुवार को सभागार में पत्रकार वार्ता आयोजित कर गुमान सिंह की हत्या के मामले का खुलासा किया। एसएसपी ने बताया कि बुधवार रात को सहसपुर पुलिस ने बालूवाला गांव में एक मकान में चिकन शॉप कारोबारी गुमान सिंह यादव (45) पुत्र चमनलाल यादव का शव बरामद किया था। गले पर चोट के निशान पर होने पर पुलिस ने हत्या होने की दिशा पर जांच की।


इस मामले में सीसीटीवी कैमरे खंगाले गए और मृतक की तलाकशुदा पत्नी आशा यादव से पूछताछ की गई। पूछताछ में पता चला कि आशा ने अपने प्रेमी रणजीत सिंह नेगी पुत्र बचन सिंह निवासी गजा जिला टिहरी गढ़वाल के साथ मिलकर पति गुमान सिंह की हत्या को अंजाम दिया।

आशा यादव ने बताया कि वर्ष 2013 में उसका अपने पति गुमान सिंह से तलाक हो गया था। बच्चे पति के साथ ही रहते थे। वह खुद सेलाकुई में घरों में बच्चों के मालिश का काम करती है। इस दौरान उसका रणवीर सिंह नेगी से संपर्क हुआ। बताया कि गुमान सिंह उसे और बच्चों को खर्च नहीं देता था।

आरोप लगाया कि गुमान सिंह बच्चों को मारता पीटता था। बताया कि हाल में गुमान ने बालूवाला स्थित घर को बेच दिया था। इससे गुमान को कुछ रुपये मिले थे। उन रूपयों से वह ऐशोआराम कर रहा था। इस पर आशा ने अपने प्रेमी रणवीर सिंह नेगी के साथ मिलकर पति को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया।

बताया कि 22 नवंबर को आशा ने गुमान सिंह को बालूवाला स्थित घर बुलाया। जहां वह पहले खुद पहुंची थी। आशा ने गुमान के लिए खाना बनाया, जिसमें उसने नींद की गोलियां मिला दी थी। खाने के बाद गुमान सो गया। दावा किया तभी उसका प्रेमी रणजीत सिंह नेगी भी बाइक से वहां पहुंचा।

रणजीत और आशा ने मिलकर रस्सी से गुमान सिंह का गला घोंटकर हत्या कर दी। पुलिस ने दोनों आरोपियों आशा यादव व उसके प्रेमी रणजीत सिंह नेगी को गिरफ्तार कर लिया। दोनों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया।

गुमान का मोबाइल साथ ले गए थे
विकासनगर। एसपी देहात कमलेश उपाध्याय ने बताया कि हत्या के बाद गुमान का मोबाइल भी वे अपने साथ ले गये थे। दोनों से घटना में प्रयुक्त मोटर साइकिल, रस्सी, मृतक को मोबाइल फोन, घटना में प्रयुक्त दो मोबाइल फोन व दो सिमकार्ड बरामद किये हैं।

ये रहे पुलिस की टीम में शामिल
हत्याकांड का खुलासा करने वाली टीम में एसपी देहात कमलेश उपाध्याय, एसपी अपराध मिथलेश कुमार, सीओ विकासनगर संदीप नेगी, पुलिस की टीम में कोतवाल विकासनगर शंकर सिंह बिष्ट, थानाध्यक्ष सहसपुर गिरीश नेगी, एसएसआई सहसपुर रविंद्र नेगी, एसएसआई विकासनगर दीपक मैठाणी, एसओजी प्रभारी दीपक धारीवाल, चौकी प्रभारी सभावाला ओमवीर सिंह, चौकी प्रभारी धर्मावाला भरतसिंह रावत, एसआदई ओमवीर सिंह, निखलेश बिष्ट, राकेश पुंडीर, कांस्टेबल अमरेंद्र सिंह, मुकेश पुरी,रिकेश, प्रदीप, संदीप, नवीन, राजकुमार, कुलदीप, बृजपाल, नवनीत नेगी, मनोज कुमार, सोनी कुमार शामिल रहे।


शाहनूर अली स्टेट इंचार्ज उत्तराखंड फ़ास्ट न्यूज़ इंडिया 151045804


Subscriber

170591

No. of Visitors

FastMail

नई दिल्ली - भारत में 24 घंटों के अंदर आए कोरोना के 279 नए मामले, देश में सक्रिय मामलों की संख्या हुई 4855     नई दिल्ली - वाशिंगटन की सुंदर पारी, टीम इंडिया ने रखा 220 रन का लक्ष्य     दुनिया - पाकिस्तान के क्वेटा में पुलिस की गाड़ी पर बम से हमला, 15 पुलिस अधिकारियों सहित कुल 21 लोग घायल